IVRI में वन्य जीवन स्वास्थ्य पर दो दिवसीय राष्ट्रीय कांग्रेस संपन्न

पशु संदेश, भोपाल | 09 जनवरी 2017

भारतीय पशु चिकित्सा अनुसन्धान संसथान (IVRI )इज्ज़त नगर बरेली में वन्य जीवन स्वास्थ्य पर दो दिवसीय राष्ट्रीय कांग्रेस का समापन 08 जनवरी को हो गया | 06 जनवरी को राष्ट्रीय कांग्रेस और  आल इंडिया एसोसिएशन ऑफ़ इंडियन जू तथा वाइल्डलाइफ वेटेरेनियनस (AIZWV)  के वार्षिक सम्मलेन का उद्घाटन हुआ था | कांग्रेस का उद्घाटन मुख्य अतिथि डा एम पी यादव द्वारा किया गया | डा यादव पूर्व IVRI निदेशक तथा वर्तमान में सरदार वल्लभ भाई पटेल विश्वविद्यालय मेरठ के कुलपति हैं | डॉ अरुण कुमार जो की बरेली से एम् एल ऐ  हैं , गेस्ट ऑफ़ ऑनर रहे |

अपने उद्घाटन संबोधन में डॉ यादव नें IVRI की उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि IVRI ने वन्य जीवन स्वास्थ्य की दिशा में सराहनीय कार्य तथा अनुसन्धान किये हैं | उन्होंने इस बात पर जोर दिया की IVRI को वाइल्डलाइफ में अनुवांशिक संपादन तथा अनुवांशिक मैनीपुलेशन पर भी शोध कार्य करने चाहिए | इसका फायदा वाइल्ड लाइफ फॉरेंसिक में मिल सकता है | IVRI के डायरेक्टर डॉ आर के सिंह ने कहा की IVRI में सर्वसुविधा युक्त वाइल्डलाइफ डिविजन की आवश्यकता है और इसके लिए फंड्स की व्यवस्था की जाएगी |

कांग्रेस के संयुक्त आयोजन सचिव डॉ ऐ के शर्मा नें पशु सन्देश से चर्चा में बताया की दो दिन के इस वार्षिक सम्मलेन में देश भर से आये करीब 250 डेलिगेटस , सेवानिवृत्त IVRI वैज्ञानिक तथा IVRI की फैकल्टी नें शिरकत की | इस दौरान कई साइंटिफिक पेपर्स प्रस्तुत किये गए | स्वयं डॉ ऐ के शर्मा द्वारा वन्यजीवों में होने वाले कैंसर पर शोध पत्र प्रस्तुत किया गया | 

For more news logon to www.pashusandesh.com and download app Pashusandesh from google playstore.